“में बेटी हूँ मां क्या मेरा यही दोष था?” ये सवाल मां के लिए नहीं बल्कि दुनिया के लिए है जिसे मरने पर मजबूर किया जिहादी दानिश ने

दानिश जैसे दरिंदों के कारण देश की बेटियां खुद को इस धरा पर पाप समझें यही हमारे लिए सबसे बड़ा कलंक है…

Read more