8 मई – 2010 में छत्तीसगढ़ बीजापुर में नक्सल नाम का कलंक धोते हुए आज ही अमरता को प्राप्त हुए थे CRPF के 8 जांबाज़. नमन करें उनके “बलिदान दिवस’ पर

अपने एयरकंडीशनर लगे घरों में जब भी हम आराम कर रहे होते हैं और शांति का अनुभव ले रहे होते

Read more

3 मई – 2011 में आज ही लोहरदगा रांची में नक्सलियों से लड़ कर अमर हुए थे झारखण्ड पुलिस व CRPF के 11 जांबाज़. नमन कीजिये उन्हें जो जिये सिर्फ हमारे व आपके लिए

वो आज ही का दिन अर्थात 3 मई 2011 का था जब पुलिस व CRPF की संयुक्त टीम को सूचना

Read more

सीमा के सैनिको जैसे ही हालात में ड्यूटी देते हैं UP के चंदौली जिले में चकरघट्टा थाने के पुलिसकर्मी.. साबुन भी लेना है तो 30 किलोमीटर दूर जाइये

राष्ट्र की रक्षा करने के लिए दुर्गम हालातों में खड़े सैनिको को देख कर हमे गर्व होता है और उनके

Read more

5 अप्रैल- दांतेवाडा में नक्सलियों से 2010 के युद्ध में अमर हुए CRPF के 73 योद्धाओं को शत-शत नमन

देश को आज का दिन उस सरकार और उस शासन की अकर्मण्यता के लिए याद रखना होगा जब हाथ और

Read more

नक्सलियों को बताया जाता था किसी और मजहब का.. तो आताउर, अब्दुल, अंसारी, इसराफिल, कलाम, आलमगिर, मोनिन, कादिर कौन हैं ?

अक्सर नक्सलियों के नाम आदि के बहाने किसी अन्य पर निशाना साधते देखा होगा आपने .. उसको एक धार्मिक उन्माद

Read more

20 फ़रवरी- सुकमा जिले में नक्सलियों की सटीक जानकारी सुरक्षाबलों को देते हुए आज ही वीरगति पा गए थे IB अधिकारी उमाकांत सिंह

ये वीर भी उन जगमगाते सितारों में से एक हैं जिनको भले ही ज्यादा प्रचार आदि न मिला हो लेकिन

Read more

गांधी के सपनों का देश.. जांबाज़ पुलिस अधीक्षक की हत्या करने वाले दुर्दांत नक्सली को फूल माला पहना कर कर सरेंडर करवाया गया. मिला 2 लाख कर चेक भी

इसको ही गाँधी का देश कहा जा सकता है जहाँ पर हिंसा आदि की कोई गुंजाईश नहीं है . इसका

Read more

बिहार पुलिस ने ढेर किया एक नक्सली व दूसरे को दबोचा.. नक्सल का काल बन कर उभरे हैं ASP आलोक

जिस प्रकार से सेना कश्मीर में आतंकियों के हौसले पस्त करते हुए ऑपरेशन आल आउट चला रही है उसी प्रकार

Read more

कश्मीर के आतंकी जीनत उल इस्लाम की मौत के बाद अब झारखंड से भी शुभ समाचार.. मार गिराया गया है 10 लाख का इनामी नक्सली शाहदेव उर्फ ताला

राष्ट्रवादियों के चेहरे पर ये सुकून, ये खुशी देंन है भारत के जांबाज़ सुरक्षाबलों की जिन्होंने देश का ही खा

Read more

कभी कुख्यात नक्सली रहे कैदियों ने भी जेल से काष्ठ कला पर उकेर कर भेजा है “वन्देमातरम”. जवाब है 5 सितारा होटलों में रह कर वन्देमातरम न बोलने की कसम खाने वालो को

कभी गुमराह थे ये जो अब निकल चुके हैं राष्ट्र की मुख्य धारा में .

Read more