21 नवम्बर: जन्मजयंती नायक यदुनाथ सिंह.. 9 भारतीय सिंहो के साथ मारा 250 पाकिस्तानियों को, और अंत मे खुद भी अमर हो गए.. हिमालय आज भी गवाह है उस पराक्रम का

बहुत शोर सुना होगा आपने आज कल टीपू सुल्तान आदि नामो का .  तमाम आधारहीन तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर

Read more

31 मई – जन्मदिवस नारी शक्ति की प्रतीक रानी अहिल्या देवी होल्कर. एक महान शासिका जिन्होंने उन सभी तीर्थों का जीर्णोद्धार कराया जिसे तोड़ कर गए थे मज़हबी आक्रांता

भारत की प्राचीन परंपरा रही है नारी शक्ति को पूज्यनीया मान कर उसकी उपासना करने का .. कुछ तथाकथित लोग

Read more

25 मई- दुर्दांत इस्लामिक आतंकी अख्यात उल्लाह की छाती में 30 गोलियां उतार कर आज अमर हो गये थे धर्मयोद्धा “धर्माराम”

ये वो योद्धा हैं जिनकी एक एक सांस केवल राष्ट्र के नाम लिखी थी . उन्होंने अपना जीवन दे दिया

Read more

12 मई – अत्याचारी चार्ल्स रैण्ड का वध कर के आज ही पुणे की यरवदा जेल में फांसी का फंदा चूम लिया था क्रांतिवीर “बालकृष्ण चापेकर” ने

आज़ादी के इन महानायकों के शत्रु यकीनन अंग्रेज थे लेकिन उसके बाद इनकी आत्मा तक को पीड़ा उन झोलाछाप इतिहासकारो

Read more

8 मई – 2010 में छत्तीसगढ़ बीजापुर में नक्सल नाम का कलंक धोते हुए आज ही अमरता को प्राप्त हुए थे CRPF के 8 जांबाज़. नमन करें उनके “बलिदान दिवस’ पर

अपने एयरकंडीशनर लगे घरों में जब भी हम आराम कर रहे होते हैं और शांति का अनुभव ले रहे होते

Read more

3 मई – 2011 में आज ही लोहरदगा रांची में नक्सलियों से लड़ कर अमर हुए थे झारखण्ड पुलिस व CRPF के 11 जांबाज़. नमन कीजिये उन्हें जो जिये सिर्फ हमारे व आपके लिए

वो आज ही का दिन अर्थात 3 मई 2011 का था जब पुलिस व CRPF की संयुक्त टीम को सूचना

Read more

2 मई – 1908 में आज ही राष्ट्र ने झेली थी कुछ जयचंदों की गद्दारी वरना राष्ट्र पहले ही हो गया होता स्वतन्त्र

आजादी के दीवाने जिन्हें हम विस्मृत कर चुके हैं जिनके बलिदानो के परिणाम स्वरूप आज हम आजादी के हवा में

Read more

1 मई- अंग्रेजो के काल बने क्रांतिवीर प्रफुल्ल चाकी का सिर आज ही काट लिया था भारत के ही एक गद्दार ने .. उसका नाम था दरोगा “बनर्जी’

केवल एक ही परिवार की चाटुकारी और मात्र चरखे के गुण गाने में व्यस्त झोलाछाप और चाटुकारी से सनी कलम

Read more

29 अप्रैल- जन्मदिवस महान दानवीर भामाशाह.. महाराणा प्रताप के बलिदान के साथ इनका दान अमर रहेगा अनंत काल तक

जब जब राणा का भाला चर्चा में आएगा तब तब भामा का दान .. दोनों एक जैसे ही थे महान

Read more

26 अप्रैल- आज ही भारतीय सेना के शौर्य से सिक्किम शामिल हुआ था भारत में. वो गौरवशाली दिन समय जब चीन को चटाई थी धूल

सिक्किम का प्रारंभिक इतिहास 13वीं शताब्दी में उत्तरी सिक्किम के काब लुंगत्सोक लेपचा राजा थेकॉन्ग टेक और तिब्बती युवराज ख्ये

Read more