पासपोर्ट के मामले में गाजियाबाद पुलिस नही बल्कि अदालत ने गंभीरता दिखाई.. योगी शासन में ऐसी प्रशासनिक कार्यशैली एक बदनुमा दाग

ये वही गाजियाबाद है जो भारत की राजधानी दिल्ली से सटा हुआ है, यही वो जगह है जहाँ से दिल्ली

Read more

शेर की तरफ लड़ी मेरठ पुलिस और ढेर हो गया 50 हजार का दुर्दांत अपराधी जुबेर. सुदर्शन पर इंटरव्यू में योगी ने कहा था- “गोली का जवाब गोली ही होगी”

किसी की ख़ामोशी को अगर उसकी कमजोरी समझा जाय तो आगे चल कर अक्सर ये गलतफहमी भी साबित होती है..

Read more

पहली बार प्रशासनिक अधिकारी की दहशत से हुआ पलायन.. चुनाव से दौरान योगीराज के खिलाफ “आधिकारिक” साजिश तो नहीं ?

ये समय किसी भी पार्टी या किसी भी सरकार के लिए इतना संवेदनशील है कि एक गलती आने वाले समय

Read more

सीमा के सैनिको जैसे ही हालात में ड्यूटी देते हैं UP के चंदौली जिले में चकरघट्टा थाने के पुलिसकर्मी.. साबुन भी लेना है तो 30 किलोमीटर दूर जाइये

राष्ट्र की रक्षा करने के लिए दुर्गम हालातों में खड़े सैनिको को देख कर हमे गर्व होता है और उनके

Read more

पार हो रही राजनैतिक असभ्यता की सभी सीमायें .. अब मंच से योगी आदित्यनाथ को बोला गया “गुंडा”

जैसे जैसे राजनीती का पारा चढ़ रहा है वैसे वैसे इस चुनावी महासमर में हिस्सेदारी करते राजनेताओं की जुबान भी

Read more

मोदी ही नहीं, योगी भी प्रियंका के निशाने पर.. फ़तेह मोहम्मद से बोलीं – मोदी ही नहीं बल्कि योगी को भी हराने की तैयारी करो

उत्तर प्रदेश की राजनीति को उस समय नई हवा और दिशा मिलने के संकेत मिले जब चुनावी मैदान में उतारी

Read more

नशेडी BDO की हरकतों से चंदौली प्रशासन और योगी शासन हो रहा बदनाम.. फाइलों के ऊपर रखता है माचिस और धुआं जाता है जनता पर

ये प्रदेश है एक योगी के द्वारा शासित जो भगवा वस्त्र में रहते हुए प्राचीन काल के तमाम साधू सन्यासियों

Read more

कुछ को ऐसा लग रहा जैसे ये योगी शासित लखनऊ नहीं बल्कि ममता शासित कोलकाता हो.. एक ही पुलिस के २ रूप कैसे ?

इस घटना को लिखने से पहले ये जान लीजिये कि ये घटना लखनऊ पुलिस से संबंधित है . इस जिले

Read more

योगीराज में ढह गया वो उर्दू गेट जिसको अवैध रूप से बनवाया था आजम खान ने

गलत को निसंकोच गलत कहने की परम्परा उत्तर प्रदेश में शुरू होना माना जा सकता है जब अपने समय के

Read more

2 बच्चों के कानून पर योगी शासन का पहला कदम.. कन्या सुमंगला योजना से हुई शुरुआत.. सुरेश चव्हाणके जी के प्रयास सफल अंजाम की तरफ

बिना खाने की चिंता व बिना सोने की फिक्र किये हुए, देश की उन्नति व जनसँख्या के संतुलन को बनाये

Read more