Breaking News:

23 अप्रैल- अंग्रेजो के खिलाफ एक और बागवत हिन्दुस्तानी सैनिको की हुई थी आज पेशावर में जब वीर “चन्द्रसिंह गढ़वाली” के आदेश पर राष्ट्रभक्त सैनिको ने रख दिए हथियार

इतिहास के वो नाम जिनको जान बूझ कर गुमनाम किया गया है , उन नामो में से एक नाम है

Read more

20 अप्रैल- आज सर्द हिमांचल धधक उठा था 1857 क्रांति ज्वाला से और फूंक दिया गया था थाना कसौली. क्यों छिपाया गया ये इतिहास चरखे के गुण गाने वालों द्वारा ?

यकीनन आप आज़ादी के इतिहास के आज के गौरवशाली पल से परिचित नही होंगे और होंगे भी हरे रंग की

Read more

11 अप्रैल – बलिदान दिवस, बलिदानी खाज्या नायक. मंगल पाण्डेय जैसा ही एक महायोद्धा जिसने ब्रिटिश आर्मी में होते हुए की बगावत और प्राप्त की अमरता

यकीनन इन्हें आप जानते भी नहीं होंगे क्योकि इनका इतिहास बताया ही नहीं गया . झोलाछाप इतिहासकारों की कलमे केवल

Read more

8 अप्रैल- 2 क्रूर अंग्रेज अफसरों का वध कर के आज ही भारत माँ की गोद में सदा के लिए सो गये थे 1857 के महानायक मंगल पाण्डेय जी

आज का पवन दिन उस गाने को गाली के समान साबित करता है जिसे अमूमन हर व्यक्ति को रटाया गया

Read more

7 अप्रैल- पुण्यतिथि क्रांतिवीर बसावन सिंह.. जेल में 18 साल बिताने वाले चन्द्रशेखर आज़ाद के इस साथी की स्वतंत्र भारत 1989 में हुई गुमनाम मृत्यु, क्योंकि बोलबाला था चरखे का

अगर कोई ताव दे कि उसने क्रांतिकारियों और देशभक्तों का बहुत सम्मान किया है तो आज उस से एक सवाल

Read more

4 अप्रैल- 1857 क्रान्ति की रणचंडी वीरांगना झलकारी बाई ने आज ही युद्ध भूमि में प्राप्त की थी वीरगति.. क्या सच में मिली आज़ादी “बिना खड्ग बिना ढाल” ?

भले ही नकली कलमकारों व कथित इतिहासकारों ने नारी शक्ति की उस प्रतीक के साथ न्याय नहीं किया हो लेकिन

Read more

1 अप्रैल – संघ संस्थापक डॉ हेडगेवार जी जयंती. वो महान व्यक्तित्व जिनकी जंग गुलामी के साथ आज़ादी के नकली ठेकेदारों से भी हुई

उन्हें खूब बदनाम किया गया था आज़ादी के नकली ठेकेदारों द्वारा..राष्ट्र की रक्षा के साथ साथ उनकी संस्कृति रक्षा के

Read more

29 मार्च- आज ही मंगल पाण्डेय ने स्वतंत्रता का उद्घोष करते हुए वध किया था 2 क्रूर अंग्रेज अफसरों का. #शौर्य_दिवस

भारतीय क्रान्ति के अमर नाम और धधकती क्रान्ति को पहली बार आरम्भ कर के ब्रिटिश सत्ता की जड़ तक हिला

Read more

28 मार्च- आज अमरता को प्राप्त हुए थे दो भाई नीलाम्बर- पीताम्बर अंग्रेजों से लड़ कर. क्यों छिपाया गया हमसे, हमारे ही इन पूर्वजों का गौरवशाली इतिहास ?

भले ही लाख ढोल पीटा गया हो बिना खड्ग बिना ढाल का और लाख किताबें लिख डाली गयी हों चरखे

Read more

27 मार्च- आज ही सूली पर चढ़े थे क्रांतिवीर पंडित काशीराम, जिन्होंने अंग्रेजो के आगे दुश्मन बना कर खड़ा कर दिया था उनके ही सैनिको को

जिन्हें अमरता को प्राप्त करना था वो कर गये लेकिन उनके पीछे होते रहे अपराध जिन्हें किया उन तथाकथित झोलाछाप

Read more