2 मार्च – पहले सुभाष चन्द्र बोस जी के साथ अंग्रेजो से लड़े, फिर कलम उठा कर चाटुकार इतिहासकारों से लड़े योद्धा पी एन ओक जयंती

इतिहास की लेखनी का वो विकृत समय था जब अकबर जैसे दरिंदो को पूज्यनीय बना कर पेश किया जाता था

Read more

22 फरवरी- पुण्यतिथि धर्मपरायण कस्तूर बा.. रुला देगी उनकी जीवनी, जिन्हें मन्दिर जाने पर पीटा गया था और अंत काल मे नहीं लेने दी गई दवा

क्रांतिकारियो के साथ साथ इनके इतिहास को भी दबाया गया.. किसी ने नही बताया कि इन्होंने कितने दर्द सहे और

Read more

Loading...