12 जून तक कर सकते है DU में आवेदन, 20 जून को निकलेगी पहली कट-ऑफ…..

DU में स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए ऑनलाइन आवेदन की तारिक  22 मई से 12 जून शाम 5 बजे तक हैं। छात्र आवेदन के लिए DU के पोर्टल www.du.ac.in पर जा कर अपना आवेदन कर सकते है. इसके लिए छात्र की डिटेल में यह सरे डाक्यूमेंट्स होना अनिवार्य है. स्व हस्ताक्षरित प्रमाणपत्र, तस्वीर व हस्ताक्षर की कॉपी ऑनलाइन अपलोड करनी होगी। इस बार विश्वविद्यालय दाखिले के लिए केवल छह कटऑफ की सूची जारी करेगा। पहली कटऑफ सूची 20 जून को जारी होगी। डीयू ने शनिवार को आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा की।

डीयू में पिछले सत्र के मुकाबले इस बार दो हजार सीटें बढ़ाई गई हैं। इस सत्र में डीयू के 66 कॉलेजों में स्नातक स्तर पर 61 पाठ्यक्रमों के लिए कुल 56 हजार छात्र-छात्राओं को दाखिले को मौका मिलेगा.छात्रों को हर कटऑफ के बाद अपने दस्तावेजों को सत्यापित कराने के लिए 2 से 4 दिन मिलेंगे। कटऑफ जारी होन के बाद छात्रों को दाखिले के लिए पोर्टल से कॉलेज का आवेदन फॉर्म निकालना होगा। फिर फॉर्म के साथ मूल दस्तावेज लेकर कॉलेज जाना होगा और कॉलेज से दाखिला स्लिप मिलेगी।

कब क्या होगा

22 मई से स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन शुरू होगा
12 जून शाम 5 बजे तक छात्र आवेदन कर सकते हैं
20 जून को पहली कटऑफ जारी होगी 22 जून तक छात्र दाखिले के लिए दस्तावेज सत्यापित करा सकते हैं
24 जून को दूसरी कटऑफ, 28 जून तक दस्तावेज सत्यापित कराएं
1 जुलाई को तीसरी कटऑफ, 4 जुलाई तक दस्तावेज जमा करने होंगे
7 जुलाई को चौथी कटऑफ,10 जुलाई तक दाखिले के अनुमोदन का मौका
13 जुलाई को पांचवी कटऑफ, 15 जुलाई तक दाखिले के लिए दस्तावेज सत्यापित करा सकते हैं
18 जुलाई को छठी कटऑफ, 19 जुलाई तक दस्तावेज सत्यापित कराने होंगे
20 जुलाई से कक्षाएं शुरू हो जाएंगी

डीयू ने ‘बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ’ मुहिम के तहत दिल्ली और एनसीआर की लड़कियों को खास तोहफा दिया है। इस बार दिल्ली की लड़कियों को दिल्ली विश्वविद्यालय के अंतर्गत आने वाला नॉन कॉलेजिएट वूमेन एजुकेशन बोर्ड (एनसीवेब) में दाखिले के लिए अलग से फॉर्म नहीं भरना पड़ेगा। वे डीयू के स्नातक पाठ्यक्रम में आवेदन करने के लिए जैसे ही फॉर्म में अपना जेंडर लड़की या राज्य दिल्ली-एनसीआर लिखेंगी तो उनका पंजीकरण कॉलेजों में दाखिले के साथ ही एनसीवेब में दाखिले के लिए भी हो जाएगा। एनसीवेब से छात्राएं बीए और बीकॉम की पढ़ाई कर सकती हैं। उनकी डिग्री दिल्ली विश्वविद्यालय ही देगा।

DU के अल्पसंख्यक दर्जा प्राप्त कॉलेजों में भी स्नातक के लिए छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। कॉलेजों में दाखिले लेने के लिए सभी छात्रों को  DU के पोर्टल से आवेदन करना होगा। इन कॉलेजों में सेंट स्टीफंस, माता सुंदरी कॉलेज, जीसस एंड मेरी कॉलेज, श्री गुरु नानक देव खालसा कॉलेज, एसजीबीटी खालसा कॉलेज और श्री गुरु गोबिंद सिंह कॉलेज ऑफ कॉमर्स शामिल हैं।

इसके साथ ही डीयू में छात्र किसी एक कॉलेज में दाखिला लेने के बाद नई कटऑफ आने के बाद किसी दुसरे कॉलेज में दाखिला लेना चाहते है तो उस छात्र को दो जगह फीस नहीं देनी होगी। अभी तक, दूसरे कॉलेज में दाखिला लेने पर पुराने कॉलेज की फीस रिफंड होने में कई महीने का समय लगता था, लेकिन इस बार छात्र की इस परेशानी का हल निकल लिया है अब छात्र अपनी पसंद का कॉलेज मिलने पर दूसरे कॉलेज में दाखिला लेता हैं तो उसे दोनो कॉलेजों की फीस में जितना अंतर होगा सिर्फ उतनी ही राशि जमा करानी होगा।

डीयू ने छात्रों की दाखिला संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए हेल्प डेस्क बनाया है। नॉर्थ कैंपस में डीन ऑफिस के कैंपस में रूम संख्या-5 में हेल्प डेस्क सेंटर बनाया गया है। यह हेल्प डेस्क सुबह 9 से शाम 5 बजे तक काम करेगी। वहीं, 22-31 मई तक नॉर्थ कैंपस में ओपन डेज सत्र होगा। यहां डीयू के अधिकारी छात्रों और अभिभावकों के सवालों के जवाब देंगे। इसके अलावा, छात्र 91-11-27006900 पर कॉल कर अपने सवाल पूछ सकते हैं।

Share This Post